महासमुन्‍द - थाना बागबाहरा अन्‍तर्गत नााबालिक से बलात्‍कार का प्रयास करने वाला आरोपी गिरफतार

दिनांक 23-06-2016 के करीबन 11- 00 बजें प्रार्थी की पत्नी  जगाकर बोली की पीडिता उम्र 10 वर्ष घर में नही है। तब प्रार्थी औरत बच्चों एवं आस-पास के लोगो के साथ तलाश किया तो खेत पर सुनसान जगह पर मिली। पीडिता से पूछताछ करने पर बताई कि रात्रि में एक लड़का मेरा मुंह दबाकर खेत तरफ ले आया और अनाचार करने का प्रयास किया घर वालो द्वारा मुझे ढूंढने की आवाज सुनकर लड़का छोड़कर भग गया। लड़का सफेद शर्ट एवं काला पैट पहना था। बताई घर आकर देखने से पता चला की घर में रखे 02 नग मोबाईल एवं पैट में रखे 1500 रूपयें को चोरी कर ले गया है। लड़की के हाथ पैर में खरोच हैA अज्ञात व्यक्ति द्वारा नाबालिक लड़की का अपहरण कर समान भी उठाकर ले जाने बताया कि प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना बागबाहरा में अप0क्र0 119/16 धारा 363,323,506,451 ताहि0 पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।  अपहरण की घटना को गंभीरत को देखते हुये पुलिस अधीक्षक श्रीमती नेहा चम्पावत द्वारा क्राईम ब्रांच की टीम को कार्यवाही हेतु निर्देशित किया था। क्राईम ब्रांच की टीम द्वारा अज्ञात आरोपी का पतासाजी किया जा रहा था। इस दौरान मुखबीर से सूचना मिली की घटना दिनांक के एक दिन पूर्व रेल्वे फाटक देवार डेरा बागबाहरा में चकरभाठा बिलासपुर से एक देवार लड़का जिसका हुलिया पिड़िता द्वारा बताये गये आरोपी से मिलता-जुलता था। जिसे आधार मान कर अज्ञात का तलाश चकरभाठा बिलासपुर में किया गया। जहाॅ हुलिये के आधार पर उक्त अज्ञात आरोपी का नाम सन्नी देवार पिता मदन देवार उम्र 18 वर्ष सा. चकरभाठा जिला बिलासपुर निवासी होना पता चला। जो घर में उपस्थित नही मिला एवं घरवालो द्वारा दो-तीन दिन से घर नही आने की जानकारी दी गई। उक्त संदेही के संबंध में अपराधिक रिकार्ड संबंधी जानकारी बिलासपुर क्राईम ब्रांच एवं थाना चकरभाठा पुलिस से भी जानकारी लिया गया जो संदेही के संबंध में थाना चकरभाठा में अपहरण, बलात्कार व चोरी का अपराध घटित कर फरार होना बताया गया। जिससे संदेही सन्नी देवार को पकड़ना एक चुनौती पूर्ण कार्य था। क्राईम ब्रांच की टीम को पतासाजी के दौरान सूचना मिली कि घटना के बाद से आरोपी अपने बहन आरती देवार जो ग्राम दुबोली थाना रमकोला जिला कुसीनगर उत्तर प्रदेश में रह रहा है। जिसे पकडने हेतु पुलिस अधीक्षक श्रीमती नेहा चम्पावत द्वारा टीम गठितकर उ0प्र0 भेजा गया। क्राईम ब्रांच एवं थाना बागबाहरा की संयुक्त टीम द्वारा उत्तर प्रदेश जाकर आरोपी के बहन आरती देवार घर के दबिश दिया गया। जहा आरोपी सन्नी देवार उर्फ राकेश देवार को पकड़ा गया। आरोपी से पूछताछ करने पर अपराध करना स्वीकार किया। आरोपी के पास से 02 नग मोबाईल जप्त कर गिरफतार किया गया। आरोपी के विरूद्ध थाना बागबाहरा जिला महासमुंद में अप0क्र0 119/16 धारा 363,323,506,451 ताहि0 एवं चकरभाठा जिला बिलासपुर में अप0क्र0 01/16 धारा 457,380 ताहि0 व अप0क्र0 140/16 धारा 363,376क,  506,380 ताहि0 पंजीबद्ध है।

District: 
Mahasamund
Post Image: